शार्क टैंक में आए कश्मीर से 18 साल के दो भाई बेचते है कश्मीर की लकड़ी से बने क्रिकेट बैट बनाया लाखो का धंधा

Tramboo कंपनी कश्मीर विलो क्रिकेट बैट बनाती है जो दूसरे कश्मीर विलो बैट के मुकाबले ज्यादा हल्के होते है।

ये कंपनी 2021 में  दो भाइयों ने श्री नगर में शुरू की एक भाई 18 साल का हमाद और दूसरा भाई 20 साल के साद ट्रम्बू है।

ट्रम्बू कंपनी ने शार्क टैंक में 30 लाख रुपये 3% इक्विटी के लिए मांगी जिसकी valuation 10 करोड़ रुपये है।

वे क्रिकेट बैट को श्री नगर में अपने दादाजी के लकड़ी के गोदाम में तैयार करते है। लेकिन दादाजी का इस कंपनी में कोई हिस्सा नहीं है।

इनके टेनिस के क्रिकेट बैट 1800 रुपये से शुरू होते है जो दूसरे कश्मीर विलो से मुकाबले बहुत ही टिकाऊ और हल्के होते है।

Tramboo के कश्मीर विलो सीजन क्रिकेट बैट की कीमत 3000 से शुरू होती है और इंग्लिश विलो को टक्कर देते है।

इनका विज़न है कि लोग इंग्लिश विलो क्रिकेट बैट जो इतने महँगे आते है उनके बजाए इनके कश्मीर विलो बैट इस्तेमाल करे।

ये अपने क्रिकेट बैट सोशल मीडिया इंस्टाग्राम के माध्यम से 70% की बिक्री करते है और महीने का 18 लाख की बिक्री करते है।

शार्क टैंक इंडिया में अमन और पीयूष ने मिलकर 30 लाख रुपये में 4% इक्विटी के साथ tramboo कंपनी से डील पक्की कर ली।